[Top100+] Friendship Shayari In Hindi – मित्रता शायरी हिंदी में

तुम खफा हो गए तो कोई ख़ुशी न रहेगी,
तुम्हारे बिना चिरागों में रौशनी न रहेगी,

क्या कहें क्या गुजरेगी दिल पर ऐ दोस्त,
जिंदा तो रहेंगे लेकिन ज़िंदगी न रहेगी।


वादा करते हैं आपसे हमेशा दोस्ती निभाएंगे,
कोशिश यही रहेगी आपको नहीं सतायेंगे,

जरुरत कभी पड़े तो दिल से पुकार लेना,
किसी और के दिल में होंगे तो भी चले आएंगे।


मांगी थी दुआ हमने रब से,
मुझे दोस्त दो जो अलग हो सबसे,

उसने मिला दिया हमें आपसे,
और कहा संभालो इसे ये अनमोल है सबसे।


आओ ताल्लुकात को कुछ और नाम दें,

ये दोस्ती का नाम तो बदनाम हो गया।


दिल की किताब कुछ इस तरह बनाई है,
हर पन्ने पर आपकी ही याद समाई है,

फट न जाए एक भी पन्ना इसलिए हमने,
हर पन्ने पर दोस्ती की लेमिनेसन चिपकाई है।


ज़िंदगी के सागर का एक ही किनारा है,
ये किनारा सब किनारों से प्यारा है,

तू मुझसे कभी मत रूठना ऐ मेरे दोस्त,
मुझे इस दुनिया में बस तेरा ही सहारा है।


उदास हो जाओ तो मेरी हँसी माँग लेना,
अगर ग़म हों तो मेरी ख़ुशी माँग लेना,

रब आपको लम्बी उम्र दे जीने के लिए,
एक पल भी कम पड़े तो मेरी जिंदगी माँग लेना।


नफरत करो उनसे जो भुलाना जानते हों,
रूठो उनसे जो मनाना जानते हों,

प्यार करो उनसे जो निभाना जानते हों,
दोस्ती उनसे जो दिल लुटाना जानते हों।


शुक्रिया ऐ दोस्ती मेरी ज़िन्दगी में आने के लिए,
हर लम्हे को इतना खूबसूरत बनाने के लिए,

तू है तो हर ख़ुशी पर मेरा नाम लिख गया है,
शुक्रिया मुझे इतना खुशनसीब बनाने के लिए।


एक ताबीज़ तेरी मेरी दोस्ती को भी चाहिए…

थोड़ी सी दिखी नहीं कि नज़र लगने लगती है।


हम अपने आप पर गुरूर नहीं करते,
किसी को प्यार करने पर मजबूर नहीं करते,

जिसे एक बार दिल से दोस्त बना लें,
उसे मरते दम तक दिल से दूर नहीं करते।


गुनगुनाना तो तकदीर में
लिखा कर लाए थे,

खिलखिलाना दोस्तों से
तोहफ़े में मिल गया।


कही अँधेरा तो कहीं शाम होगी,
मेरी हर ख़ुशी आपके नाम होगी,

कुछ माँग कर तो देखो…दोस्त…
होंठों पर हँसी और हथेली पर मेरी जान होगी।


दर्द था दिल में पर जताया कभी नहीं,
आँसू थे आँखो में पर दिखाया कभी नहीं,
यही फ़र्क है दोस्ती और प्यार में,

इश्क़ ने हँसाया कभी नहीं…
और दोस्तों ने रुलाया कभी नहीं।


महफ़िल में कुछ तो सुनाना पड़ता है,
ग़म छुपाकर मुस्कराना पड़ता है,

कभी हम भी थे उनके दोस्त…
आजकल उन्हें याद दिलाना पड़ता है।


प्यार का रिश्ता इतना गहरा नहीं होता,
दोस्ती के रिश्ते से बड़ा कोई रिश्ता नहीं होता,

कहा था इस दोस्ती को प्यार में न बदलो,
क्यूंकि प्यार में धोखे के सिवा कुछ नहीं होता।


मेरी दोस्ती का हिसाब जो लगाओगे
तो मेरी दोस्ती को बेहिसाब पाओगे,

पानी के बुलबुलों की तरह है हमारी दोस्ती,
अगर जरा सी ठेस पहुँची तो ढूंढ़ते रह जाओगे।


खुदा से एक फरियाद वाकी है,
प्यार जिन्दा है क्यूंकि एक याद वाकी है,

मौत आये तो कह देंगे लौट जाए,
क्यूंकि…
अभी किसी ख़ास से मुलाकात वाकी है।


करनी है खुदा से गुजारिश कि,
तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले,

हर जन्म में मिले दोस्त तेरे जैसा,
या फिर कभी जिंदगी न मिले।


वो पूछते हैं इतने गम में भी खुश कैसे हो?

मैने कहा, प्यार साथ दे न दे, यार साथ हैं!

Facebook Comments
Pages ( 1 of 18 ): 1 23456 ... 18Next »