[Top100+] Friendship Shayari In Hindi – मित्रता शायरी हिंदी में

ज़िंदगी की राह में, मन चाहा मुक़ाम नहीं मिलता

कोई हमें भी दिल से चाहे, ऐसा इंसान नहीं मिलता

खेलते हैं लोग हमारे अरमानों से यहाँ

कोई हमारे दिल को चाहे, ऐसा मेहरवां नहीं मिलता ||


मुश्किल इस दुनियाँ मे कुछ भी नहीं

फिर भी लोग अपने इरादे तोड़ देतें हैं

अगर सचे दिल से हो रिश्ते तो

सितारे भी अपनी जगह उनके लिए छोड देते हैं ||


चाँदनी रातों में कुछ भीगे ख्यालों की तरह

मैने चाहा है तुम्हें दिन के उजालों की तरह

गुजरे थे जो कुछ लम्हें तुम्हारे साथ

मेरी यादों में चमकते हैं वो सितारों की तरह ||


खुदा से क्या माँगु तेरे वासते

सदा खुशीयाँ हो तेरे रास्ते

हँसी तेरे चहरे पे रहे इस तरह

खुशबु फुल का साथ निभाती है जिस तरह ||


क्युँ इक पल भी तुम बिन रहा नही जाता

तुम्हारा एक दर्द भी मुझसे सहा नही जाता

क्युँ इतना प्यार दिया है तुमने

की तुम बिन मुझ से जिया नही जाता ||


किसी की आँखों मे मोहब्बत का सितारा होगा
एक दिन आएगा कि कोई शक्स हमारा होगा

कोई जहाँ मेरे लिए मोती भरी सीपियाँ चुनता होगा
वो किसी और दुनिया का किनारा होगा

काम मुश्किल है मगर जीत ही लूगाँ किसी दिल को
मेरे खुदा का अगर ज़रा भी सहारा होगा

किसी के होने पर मेरी साँसे चलेगीं
कोई तो होगा जिसके बिना ना मेरा गुज़ारा होगा

देखो ये अचानक ऊजाला हो चला,
दिल कहता है कि शायद किसी ने धीमे से मेरा नाम पुकारा होगा

और यहाँ देखो पानी मे चलता एक अन्जान साया
शायद किसी ने दूसरे किनारे पर अपना पैर उतारा होगा

कौन रो रहा है रात के सन्नाटे मे
शायद मेरे जैसा तन्हाई का कोई मारा होगा

अब तो बस उसी किसी एक का इन्तज़ार है
किसी और का ख्याल ना दिल को ग़वारा होगा

ऐ ज़िन्दगी! अब के ना शामिल करना मेरा नाम
ग़र ये खेल ही दोबारा होगा

जानता हूँ अकेला हूँ फिलहाल
पर उम्मीद है कि दूसरी
और ज़िन्दगी का कोई ओर ही किनारा होगा ||


वफा के बदले बेवफाई ना दिया करो

मेरी उमीद ठुकरा कर इन्कार ना किया करो

तेरी महोब्त में हम सब कुछ खो बैठे

जान चली जायेगी इम्तिहान ना लिया करो ||


कोई रिश्ता नया या पुराना नहीं होता

जिन्दगी का हर पल सुहाना कितना होता

जुदा होना तो किस्मत की बात है

पर जुदाई का मतलब भूलाना नहीं होता ||


युँही बे सबाब ना फिरा करो

कोई शाम घर भी रहा करो

वो गज़ल की सच्ची किताब है

उसे छुपके-छुपके पड़ा करो

मुझे इश्तिहार सी लगती हैं

ये महोब्बतों की कहनीयाँ

जो सुना नहीं वो कहा करो

जो कहा नहीं वो सुना करो ||


क्या नशा है इश्क आज तक समझ ना पाये हम

उन नशीली आँखों में कहीं हो ना जाऐं गुम

युँ तो इश्क समझ नहीं आता ना जाने क्या बला थी ये

कि जुदा होने पे उनकी ये आँखे हो गई है नम ||


इस ना चीज दिल की गुस्ताखी तो देखो

चला है चाँद से इश्क का इज़हार करने

जिसकी रोशनी से रोशन है पूरी दुनियाँ

उसी को चला है प्यार से रोशन करने ||


नहीं था ज़ोर उसकी सितम नवाजियो का मगर

मुझे भी होंसले मेरे खुदा से मिले

मेरी आन क्युँ कहती है बार-बार मुझे

वो महोब्बत ही क्या जो इलतीजा से मिले ||


वो मुझे चाहे मिल ही जाऐ जरूरी तो नहीं

ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसो में

वो सामने हो मेरी आँखो के जरूरी तो नहीं ||


हम तो अपने दोस्तों के सारे गम चुरा लेते हैं,

दोस्ती का रिश्ता बख़ूबी निभा लेते हैं,

हम अपने दोस्तों से इतना प्यार करते हैं,

की दुश्मन भी हमसे दोस्ती करने का इरादा बना लेते है।


दोस्ती गम नही ये तो खुशियों की सौगात बाटती है,

दोस्ती किसी को दूर नही करती ये तो सबका साथ मांगती है,

दोस्ती कोई चुभन नही ये तो प्यारा एहसास बनाती है,

दोस्ती को सिर्फ हम नही ये तो सारी कायनात जानती है।


वो दोस्ती ही क्या जिसमे आप जैसा यार न हो,

वो यार ही क्या जिसके लिए हमारे दिल में प्यार न हो,

वैसे तो हम सब कुछ लुटा सकते हैं,

और वो ज़िन्दगी ही क्या जो दोस्त पर जान निसार न हो।


मैं अकेले दिन की रौशनी में
चलना पसन्द नही करता हूँ,

बल्कि मैं अपने सच्चे दोस्त के साथ
अँधेरे में चलना पसन्द करता हूँ।


जब दोस्तों की दोस्ती हो तो रोने में भी शान लगती है,

दोस्तों के बिना महफ़िल भी श्मशान लगती है,

दुनिया में बात तो दोस्ती की है ए मेरे दोस्त,

वरना मय्यत और बारात एक समान लगती है।


आँखे हमारी सब कुछ बयां करती है दोस्ती में,

सच्च हमेशा वे जुवां होता है सच्ची दोस्ती में।


सच्चा दोस्त वो है जो कभी
आपके रास्ते में नही आता है,

वो अपना कदम तभी बढ़ाता है
जब आपका रास्ता गलत नज़र आता है।


हमने उस वेबफा से प्यार कर लिया,
सारे गम को अपने अंदर भर लिया,

और हमने जब आप जैसा दोस्त पा लिया,
तो सारे गम को चन्द लम्हो में भुला दिया।

Facebook Comments
Pages ( 18 of 18 ): « Previous1 ... 1314151617 18